February 22, 2024

_

सागर जिले में संत रविदास मंदिर का निर्माण संपूर्ण मध्य प्रदेश के लिए गौरव की बात

_

श्रद्धा, आस्था और भक्ति का अभूतपूर्व स्थल होगा संत रविदास मंदिर

_

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सागर जिले के बड़तूमा में बन रहे संत रविदास मंदिर के निर्माण स्थल के अवलोकन के बाद ढाना ग्राम में आगामी 12 अगस्त को होने वाली प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की जनसभा की तैयारी का निरीक्षण किया। इस अवसर पर सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डा. अरविंद सिंह भदौरिया, लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह, राजस्व मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत, विधायकद्वय श्री शैलेंद्र जैन, श्री प्रदीप लारिया, खनिज निगम के उपाध्यक्ष राजेंद्र मोकलपुर, महापौर श्रीमती संगीता तिवारी, श्री गौरव सिरोठिया, श्री प्रभु दयाल पटेल, श्रीमती लता वानखेड़े, शैलेश केशरवानी, अनिल तिवारी सहित अनेक जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

श्री शिवराज सिंह चौहान ने सभा स्थल के मंच, हैलीपैड, डोम का अवलोकन कर अन्य सुविधाओं की जानकारी अधिकारियों से प्राप्त की। श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि संत रविदास महाराज ने भारतीय संस्कृति और समरसता के लिए अभूतपूर्व कार्य किया है। श्री संत रविदास ने कर्म को महत्व दिया। वे परिश्रम से जो भी अर्जित करते थे, उसे संत सेवा और समाज को अर्पित कर देते थे। कई राजा और मीराबाई भी उनके शिष्य थी। संत रविदास वास्तव में सामाजिक समरसता के अग्रदूत थे ।

श्री शिवराज सिंह ने कहा कि मैंने सागर में विगत 8 फरवरी को संत रविदास मंदिर की योजना को भव्य रूप देकर निर्माण कराने की घोषणा की थी। जिसके परिप्रेक्ष्य में अब भव्य और अलौकिक मंदिर बनेगा। उन्होंने बताया कि सभा स्थल पर सभी तैयारियां पूरी हो गई है। सागर जिले का प्रत्येक नागरिक सौभाग्यशाली है कि जिले की भूमि पर मंदिर निर्माण के भूमि पूजन के लिए वैश्विक नेता और यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का 12 अगस्त को आगमन हो रहा है। श्री चौहान ने बताया कि मंदिर नागर शैली में 10000 वर्ग फुट में बनेगा। इंटरप्रिटेशन म्यूजियम बनेगा। संस्कृति और रचनात्मक के साथ संत रविदास के कृतित्व – व्यक्तित्व को प्रदर्शित करने वाला संग्रहालय भी बनेगा। संग्रहालय में चार गैलरी बनेगी, जिनमें भक्ति मार्ग, निर्गुण पंथ में योगदान, संत जी का दर्शन और उनके साहित्य, समरसता का विवरण भी रहेगा। लाइब्रेरी के अलावा संगत हाल, जल कुंड, भक्त निवास भी बनेगा, जो अध्यात्मिक सुविधाओं से युक्त होगा। भक्त निवास में देश विदेश से संत रविदास के अनुयायी और अध्येता आएंगे, जिन्हें संत जी के जीवन से प्रेरणा मिलेगी। 15000 वर्गफुट में भोजनालय का निर्माण होगा। मंदिर में दो भव्य प्रवेश द्वार होंगे, सीसीटीवी कैमरे और लाइटिंग की व्यवस्था भी रहेगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि संत रविदास जी का मंदिर और कला संग्रहालय भव्य होगा, जो श्रद्धा, आस्था और भक्ति का अभूतपूर्व स्थल होगा। दार्शनिक और अध्येता और जिज्ञासु भी देश-विदेश से आएंगे ।संत रविदास जी का कृतित्व, व्यक्तित्व और दर्शन पूरी दुनिया के लिए प्रेरणादाई होगा।

इस अवसर पर संभागायुक्त डा. वीरेंद्र सिंह रावत, आईजी श्री प्रमोद वर्मा, कलेक्टर श्री दीपक आर्य, पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक तिवारी और अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। सभा स्थल के अवलोकन के बाद मुख्यमंत्री श्री चौहान हैलीकॉप्टर से भोपाल के लिए रवाना हो गए।

+2

All reactions:

1111

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *