February 22, 2024

_

कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने मुख्यमंत्री कृषक ब्याज माफी योजना 2023 के तहत किसानों से आवेदन प्राप्त करने, बैंक के ऋण वितरण एवं वसूली आदि कार्यों की समीक्षा की।

बैठक में बताया गया कि सहकारी समितियों के माध्यम से फसल ऋण लेने वाले जिले के 51 हजार 656 कालातीत ऋण वाले किसानों का लगभग 7682,48 लाख रुपये का ब्याज माफ किया जाना प्रस्तावित है। कलेक्टर श्री आर्य ने निर्देशित किया कि प्रदेश शासन की इस महत्वपूर्ण योजना के आवेदन शीघ्रता से प्राप्त करें, जिससे पात्र किसानों को योजना का लाभ मिले और कोई भी पात्र किसान योजना के लाभ से वंचित नहीं रहे।

महाप्रबंधक जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक सुनील शुक्ला ने बताया कि ब्याज माफी का लाभ मिलने के बाद किसानों को समितियों से लेन- देन की पात्रता हासिल हो जायेगी और वे पहले की तरह समितियों से खाद- बीज और अन्य लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

बैंक वसूली की समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने कहा कि वसूली बैंक की आर्थिक सुदृढ़ता का आधार है। वर्तमान में बैंक की वसूली विगत वर्ष की तुलना में बहुत पीछे है। सभी शाखा प्रबंधक अधिकाधिक वसूली के प्रयास करें। उन्होंने पात्र किसानों को अधिकाधिक ऋण वितरित किये जाने पर जोर दिया। बैंक अमानतों की स्थिति की समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने सहकारी बैंक द्वारा दिये जा रहे सर्वाधिक ब्याज का व्यापक प्रचार- प्रसार कराने पर जोर दिया।

All reactions:

1010

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *