February 22, 2024

_

’ग्रीन खुरई, क्लीन खुरई’ के तहत एक माह में एक लाख वृक्ष लगाने का संकल्प

_

वाटर स्पोर्ट्स कांप्लेक्स, रिसॉर्ट, इंडोर स्टेडियम व मल्टीपर्पज प्ले ग्राउंड का भूमिपूजन संपन्न

_

प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने आज खुरई में विकसित हो रहे हनौता पर्यटन स्थल में ’ग्रीन खुरई क्लीन खुरई’ महासंकल्प के तहत 3000 वृक्षों के वृहद वृक्षारोपण के साथ एक नये पर्यटन स्थल के निर्माण की शुरुआत की। मंत्री श्री सिंह ने हनौता बांध स्थल पर 20.20 करोड़ की लागत से वाटर स्पोर्ट्स कांप्लेक्स, रिसार्ट्स, इंडोर स्टेडियम व बहुउद्देशीय प्ले ग्राउंड निर्माण कार्य का भूमिपूजन किया। श्री सिंह ने इस अवसर पर 175 करोड़ की लागत से बन रहे खुरई के सीवरेज प्लांट का भी भूमिपूजन किया। उन्होंने बताया कि भगवान शिव जी की विशालकाय प्रतिमा और चिड़िया घर बनाने सहित कई महत्वपूर्ण निर्णय बताए। एक माह के भीतर खुरई विधानसभा क्षेत्र में एक लाख वृक्ष लगाने का महासंकल्प लेते हुए सभी से एक वृक्ष लगाने का आह्वान किया।

वृक्षारोपण के लिए उमड़े युवाओं और खुरई वासियों को संबोधित करते हुए मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि वृक्षों और प्रकृति का हम पर ऋण है। इस ऋण को कम करने के लिए सभी अपने जीवन में एक वृक्ष लगाएं और उसे बड़ा करें। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में सबसे अधिक वृक्ष लगाने वाले किसी एक बेटे और सबसे अधिक वृक्ष लगाने वाली किसी एक बेटी को 21-21 हजार के पुरस्कार दिए जाएंगे। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि हनौता बांध पर विकसित हो रहे पर्यटन स्थल को 50 एकड़ भूमि उपलब्ध कराई गई है जिसमें से 25 एकड़ वृक्षारोपण के लिए है। आप सभी इस भूमि पर अपने परिजनों की स्मृति में पेड़ लगा सकते हैं और उनकी छाया और आशीर्वाद को यहां कभी भी आकर महसूस कर सकते हैं।

मंत्री श्री सिंह ने कहा कि हनौता ऐसा पर्यटन स्थल होगा जहां पूरे जिले और प्रदेश भर से पर्यटक आएंगे। यह क्षेत्र के लोगों के रोजगार और राजस्व आय का साधन बनेगा। श्री सिंह ने बताया कि यहां ऐसे वृक्ष भी लगाए जा रहे हैं जो धार्मिक अनुष्ठानों त्यौहारों पर पूजन व समिधा में काम में आते हैं। यहां एक ध्यान मंडप भी बनाया जाएगा। महिलाएं यहां वृक्षों से जुड़े धार्मिक पर्व मनाने आया करेंगी। यह पिकनिक पर्यटन, धार्मिक पर्यटन, वाटर स्पोर्ट्स और विविध खेलों से जुड़ी गतिविधियों का समृद्ध केंद्र बन जाएगा। कैफेटेरिया, पार्क, बच्चों के मनोरंजन के उपकरण, गाकड़ बाटी हेतु कई शेड जैसी अनेक सुविधाएं इस बांध की जलराशि के समीप बनाई जा रही है। मंत्री श्री सिंह ने बताया कि खुरई से मात्र 5 मिनट में यहां पहुंचा जा सकेगा। इसके लिए यहां के पहुंच मार्ग को चौड़ा करके शीघ्र ही टू लेन मार्ग में बदल दिया जाएगा।

मंत्री श्री सिंह ने कहा कि आज 175 करोड़ की लागत से बनना शुरू हो रहे खुरई के सीवरेज प्लांट से नगर की स्वच्छता, सुविधा और स्वास्थ्य में तेजी से बदलाव आएगा। सभी नालियां 5-6 फीट गहराई में भूमिगत होंगी। नगर की सारी गंदगी सीवरेज प्रणाली से नगर के बाहर ट्रीटमेंट प्लांट तक पहुंच कर शुद्ध हो जाएगा। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि “ ग्रीन खुरई क्लीन खुरई “ के लक्ष्य पर हम सुनियोजित रूप से आगे बढ़े हैं। हम नगर में 17 पार्क बना चुके, मुख्य सड़कों के किनारे व संस्थाओं में लगाए गए वृक्ष सफलता पूर्वक बड़े हो गए हैं। तालाब, तलैया जैसी अनेक जलसंरचनाओं का कायाकल्प किया जा चुका है। अब एक माह में एक लाख वृक्षों को लगा कर और उन सभी की देखभाल करके हम इस संकल्प का एक और महत्वपूर्ण चरण पूरा करेंगे। उन्होंने बांध परियोजना के अधिकारियों से जानकारी लेकर बताया कि हनौता बांध का कार्य इसी वर्ष पूर्ण हो जाएगा।

इस वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम में युवाओं, स्कूल कालेजों के छात्र छात्राओं, महिलाओं और नगर वासियों का उत्साह चरम पर था। एक साथ सैकड़ों स्थानों पर युवा अपने लगाए पौधों के साथ सेल्फियां ले रहे थे। नपा अध्यक्ष व सभी पार्षदों सहित सभी जनप्रतिनिधियों, कार्यकर्ताओं, अधिकारियों, कर्मचारियों व पत्रकारों ने अपने वृक्ष लगाए। कार्यक्रम को अबिराज सिंह ने भी संबोधित किया और युवाओं में वृक्षारोपण करने के लिए प्रेरित किया।

कार्यक्रम में श्री रामनिवास माहेश्वरी, श्री हरिशंकर कुशवाहा, हेमचंद बजाज, श्री जाहर सिंह ठाकुर, ओमप्रकाश घोरट, नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती नन्ही बाई अहिरवार, जनपद अध्यक्ष जमना प्रसाद अहिरवार, नपा उपाध्यक्ष राहुल चौधरी, राजेन्द्र ठाकुर, संजय समैया, नीतिराज पटैल, देशराज यादव, बलराम यादव, अजीत सिंह अजमानी, पीयुष गुरहा, श्रीमती रश्मि सोनी, श्रीमती विनीता सौर, प्रतिभा पुरोहित, राजेश राय, परमानंद यादव, नेहा प्रजापति, श्रीमती सपना विश्वकर्मा, श्रीमती रोशनी पटैल, श्रीमती माधवी कुर्मी, श्रीमती अर्चना जेन, श्रीमती अंजु रैकरवार, लाखन यादव, राजेन्द्र यादव मुख्य रूप से उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *