September 28, 2022

नामांकन जमा करने की आखिरी तारीख पर ही भाजपा के 12 पार्षदों का निर्विरोध निर्वाचन तय

मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा खुरर्ई की जनता विकास के साथ, कांग्रेस को नकार दिया

खुरई। खुरई नगरपालिका चुनाव के नामांकन दाखिल करने की अवधि समाप्ति के बाद कुल 32 वार्डों में से 12 वार्डों में भाजपा प्रत्याशियों के विरोध में किसी अभ्यर्थी ने नामांकन पत्र नहीं भरा। इस तरह खुरई नगर पालिका के 12 वार्डों के भाजपा पार्षदों का निर्विरोध निर्वाचन होना सुनिश्चित हो गया। कांग्रेस के भोपाल से नियुक्त प्रभारी और कई महत्वपूर्ण नेता एक हफ्ते से खुरई में डेरा डाल कर भाजपा के विरुद्ध चुनाव लड़ने के लिए प्रत्याशियों की तलाश करते रहे लेकिन 32 वार्डों में से सिर्फ 9 वार्डों में ही कांग्रेस को प्रत्याशी मिल सके शेष 23 वार्डों में कांग्रेस अपने प्रत्याशी ढूंढ़ने में भी असफल रही।

उल्लेखनीय है कि दो दिन पूर्व ही नगरीय विकास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए चुनावी प्रक्रिया में हिस्सा लेने के लिए सभी दलों से आग्रह किया था । उन्होंने कहा था कि खुरई की जनता के समक्ष विकास ही मुद्दा है और भाजपा के लिए मतदाताओं के विश्वास को देखते हुए भाजपा प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले सभी प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो जाएगी। नामांकन अवधि समाप्ति के बाद जो तस्वीर सामने आई है उससे स्पष्ट हो रहा है कि खुरई नगरपालिका क्षेत्र की जनता ने भाजपा के अलावा सभी प्रत्याशियों को नकार दिया है।

खुरई नपा चुनाव में भाजपा प्रत्याशियों के निर्विरोध निर्वाचन की स्थिति जिन वार्डों में निर्मित हुई है उन वार्डों व प्रत्याशियों में वार्ड क्र 1 सरदार पटेल वार्ड से सविता हेमंत ठाकुर, वार्ड 3 नेता जी सुभाष वार्ड से सुमन प्रवीण जैन, वार्ड 11 कुशाभाऊ ठाकरे वार्ड से राजेंद्र यादव, वार्ड 14 मुखर्जी वार्ड से सुनील चंदेल, वार्ड 19 रानी दुर्गावती वार्ड से बलराम यादव, वार्ड 20 बिहारी वार्ड से मोना धर्मेंद्र जैन, वार्ड 21केसी शर्मा वार्ड से श्रीमती कृति चौरसिया, वार्ड 22 संत कबीर वार्ड से विनीता आदिवासी, वार्ड 26 विद्यासागर वार्ड से द्वारका जगत सिंह, वार्ड 30 पं अटल बिहारी वार्ड से निर्मला गणेश कुशवाहा, वार्ड 31 वीर सावरकर वार्ड से रोशनी मदन कुशवाहा, वार्ड 32 विनोबा भावे वार्ड से श्रीमती नर्बदा जगदीश अहिरवार शामिल हैं।

मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने कहा है खुरई नपा चुनाव में सामने आई स्थिति से स्पष्ट है कि भाजपा की विकासपरक नीतियों और सिद्धातों पर मतदाताओं का अटूट विश्वास निर्मित हुआ है। सारे लोभ लालच और प्रलोभन देने के बाद भी 32 में से 23 वार्डों में कांग्रेस को पर्चा दाखिल करने के लिए प्रत्याशी नहीं मिलने और इसके पूर्व विधानसभा क्षेत्र की तीन नगर परिषदों के 45 वार्डों में से 38 वार्डों में कांग्रेस को प्रत्याशी नहीं मिलने से स्पष्ट है कि खुरई विधानसभा क्षेत्र कांग्रेस मुक्त हो चुका है। जनता ने यहां कांग्रेस को नकार दिया है। उल्लेखनीय है कि नामांकन पत्रों के परीक्षण व नाम वापसी के पश्चात निर्विरोध भाजपा पार्षदों की संख्या में बड़ा इजाफा होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.