February 26, 2024

_

नगरीय आवास और विकास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने कहा है कि अब प्रदेश के हर एक जिले में मेडिकल कालेज खुलेगा। इसके साथ ही नर्सिंग कालेज भी बनेंगे। कई जिलों में इसकी स्वीकृति हो चुकी है। कुछ कालेज शुरू हो गए है।मंत्री श्री सिंह आज बुंदेलखंड मेडिकल कालेज सागर में समाजसेवी स्व हुकुमचंद साहू की स्मृति में वाटर कूलर के लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने बीएमसी में दो वाटर कूलर का लोकार्पण और चिकित्सा क्षेत्र में बेहतर सुविधाओं देने वालो का सम्मान किया। इस मौके पर महापौर संगीता तिवारी ,महापौर प्रतिनिधि सुशील तिवारी ,दानदाता राहुल साहू, डीन आर एस वर्मा और अधीक्षक डी के पिप्पल मोजूद रहे। कार्यक्रम में राहुल साहू ने मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह को स्मृति चिन्ह भेंटकर स्वागत किया।

नगरीय विकास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि मेडिकल कालेज आते है तो इस बात की अनुभूति होती है कि मेडिकल कालेज की सबके जीवन के लिए कितनी जरूरत है।मेडिकल कालेज वह माध्यम है जिससे लोगो को जीवन मिलता है और रोजगार के अवसर मिलते है। इस समय देश में 10 लाख डॉक्टर्स और 17 लाख नर्सों की जरूरत है। आजादी के 75 साल बाद यह स्थिति दुखद है। पूर्व की सरकारों ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया। इससे लोगो को स्वास्थ्य सुविधाएं नही मिल सकी और रोजगार भी नही मिला। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि हरेक जिले में मेडिकल कालेज बने और बनना शुरू हो गये है। जैसे छतरपुर ,दमोह में मंजूरी मिल चुकी है। वही रायसेन और विदिशा में कालेज शुरू हो गए है और अब इनके साथ नर्सिंग कालेज भी बनेंगे ।

बीएमसी हमारे संघर्ष की देन है

उन्होंने कहा कि बीएमसी हम लोगो की लगातार मेहनत और संघर्ष की देन है। पिछले दिनों केबिनेट की बैठक में 150 सीट बढ़ाई गई और केंद्र और राज्य सरकार से 300 करोड़ की राशि स्वीकृत हुई है। अब इसकानिर्माण कार्य जल्द से जल्द शुरू करे। अभी इसकी नर्सिंग की 120 सीटे है। इनकी संख्या भी बढ़ाने का प्रयास करेंगे।

स्ट्रेचर पर किया था प्रदर्शन

नगरीय प्रशासन मंत्री श्री सिंह ने बताया कि मेडिकल कालेज की नीव रखने से लेकर आज तक जुड़ा रहा हू। इसे एमसीआई से मान्यता नहीं मिल पा रही थी। उस समय में विपक्ष में सांसद था। मान्यता को लेकर बुंदेल खंड अंचल के सभी सांसदों और विधायकों ने दिल्ली में प्रदर्शन किया था। उस समय मुझे स्ट्रेचर पर लिटाकर प्रदर्शन किया । तब एमसीआई के चेयरमेन ने शाम को सभी को बुलाया और तत्काल मान्यता के आदेश दिए। मेडिकल कालेज की स्थापना के लिए लाठिया भी खाई और जेल भी गया।

मानवता ही सेवा का माध्यम

उन्होंने कहा कि डाक्टर तो सभी होते है। उनमें मानवता होनी चाहिए । मानवता की सेवा के रूप में भगवान ने उनको चुना है। इस कार्य को हमेशा सेवा के रूप में करे। उनकी यश कीर्ति दोनो बढ़ेगी और लोगो जीवन बचाने में सफल होंगे।

सेवा का प्रकल्प चुने

मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि समाज के संपन्न और सक्षम लोगो को सेवा का प्रकल्प जरूर लेना चाहिए। उसकी पहचान राजनीति से हटकर होती है। इंजीनियर श्री प्रकाश चोबे इसका उदाहरण है। उन्होंने 5 एसी देने की घोषणा की है। मेडिकल कालेज में लगातार सेवा कर रहे है। उन्होंने श्री प्रकाश चोबे की सराहना करते हुए कहा कि वे अनेक दान और सेवा के क्षेत्र में अनेक तरह के कार्य करते है। दान से धन कम नही होता है बल्कि धन बढ़ता है। धन का सदुपयोग करे।

रक्तदान बड़ी सेवा

उन्होंने कहा कि मेंने राजनीति से हटके कार्य करने का प्रकल्प लिया है। वह है जन्मदिन के माध्यम से रक्तदान का। अभी तक 13000 हजार यूनिट रक्तदान किया जा चुका है। इस बार 1500 यूनिट दिया गया। यह दान लोगो की जिंदगी बचाने का कार्य कर रहा है। इससे बढ़ा कोई कार्य नहीं हो सकता है। मेरे जन्मदिन की सार्थकता भी यही है। उन्होंने आव्हान किया कि सभी मिलकर बीएमसी को एक अच्छा मेडिकल कालेज बनाये।

इस अवसर पर स्व हुकुम साहू के बेटे राहुल साहू ने अपने पिता के कार्यों को याद करते हुए कहा कि मकरोनिया में जलसंकट के समय पिता जी ने बहुत कार्य किया था। आज में उनकी प्रेरणा से काम कर रहा हू। समाजसेवा की यही प्रेरणा मुझे आज मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह से मिल रही है। उन्होंने हमेशा युवाओं से समाज सेवा करने की बात कही है।

इस अवसर पर महापौर प्रतिनिधि सुशील तिवारी ने कहा कि मेंने हुकुम चंद साहू के साथ लंबे समय तक कार्य किया। वे प्रमाणिक, सात्विक और दूरदर्शी व्यक्ति थे। गोपालगंज मुक्तिधाम की तर्ज पर रजाखेड़ी में मुक्तिधाम का जीर्णोद्धार कराया । राहुल साहू के डीएनए में अच्छे संस्कार है और अच्छे कार्य कर रहे है

उन्होंने कहा कि सागर में विकास के जो भी कार्य चल रहे है। वे नगरीय विकास मंत्री भूपेंद्र सिंह की देन है। चाहे स्मार्ट सिटी हो, डेयरी विस्थापन ,स्टेडियम आदि शामिल है उनकी सागर के प्रति गहरी प्रतिबद्धता है। सागर के विकास कार्यों में उनकी सोच दिखती है। आगामी 15 जून को पितृ की स्मृति में पौधरोपण का बड़ा आयोजन होगा। इस अवसर पर कार्यक्रम का संचालन लक्ष्मण सिंह और डा उमेश पटेल ने और आभार डीन आर एस वर्मा ने किया।

इनका हुआ सम्मान

कार्यक्रम में चिकित्सा के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने वाले डॉक्टर्स ,नर्स आदि का सम्मान किया गया। सम्मानित होने वालो में। डीन डा आर एस वर्मा, एस के पिप्पल , अभय तिर्की, प्रो रमेश पांडेय,आशीष जैन, अमर जैन , तलहा शाद,,राजेश जैन,शीला जैन, रविकांता अरजरिया रीमा गोस्वामी , रामेंद्र चोबे, पुण्य प्रताम ,सुनील सक्सेना ,मनीष जैन ,अंशुल गुप्ता, अजीत असाटी, शैलेंद्र पटेल, एस पी सिंह, सत्येंद्र मिश्रा, डा जागृति किरण नागर ,नीतू बजाज, गौरव अग्रवाल, रीता अग्रवाल, वृष भान अहिरवार, अंजली विरानी पटेल,उमेश पटेल,दीपराज , गुलाब साहू,,ओंकार ठाकुर, दीप्ति पांडे ,अनुपम बोहरे, जितेंद्र दांगी ,संजय प्रसाद, ऋषभ दुबे, सोनू चुटेले इंजीनियर प्रकाश चौबे शामिल है।

इस मौके पर अनुराग प्यासी,पार्षद मनोज चोरसिया, अशोक साहू, मुन्ना रावत, अर्पित पाण्डेय मुकेश साहू ,अजय तिवारी सहित बीएमसी प्रबंधन मोजूद रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *