मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने सौंपे 3912 पीएम आवासों के स्वीकृति पत्र

बरोदियाकलां। मध्यप्रदेश शासन के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बरोदियाकलां नगर परिषद क्षेत्र के 3912 हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के स्वीकृति पत्र प्रदान किये। मंत्री श्री सिंह ने बरोदियाकलां में
3 हाई मास्क लाइट का लोकार्पण और नगर परिषद को तीन ट्रेक्टर सौंपने के साथ ही लगभग 33.71 करोड़ की सौगातों की झड़ी लगा दी।

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 3912 परिवारों को स्वीकृति-पत्र प्रदान करने हेतु आयोजित समारोह में मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि इन आवासों के निर्माण की कुल लागत 98 करोड़ रूपए है। अपना पक्का मकान बनाने के
लिये प्रत्येक परिवार को ढाई लाख रूपए मिलेंगे। इन सभी हितग्राहियों के खातों में एक लाख रूपए की पहली किस्त 15 अप्रैल तक पहुंच जाएगी। यह मकान हितग्राहियों को स्वयं बनाना है, इसलिये राशि उनके खातों में पहुंचेगी और
कहीं चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि किसी को एक रूपया भी नहीं दें। क्योंकि सरकार ने दलालों और बिचैलियों का रास्ता बंद कर दिया है। साथ ही यह भी अनुरोध है कि मकान बनाने के लिए मिली राशि को किसी
और काम में खर्च न करें।

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि बरोदियाकलां के नगर परिषद बन जाने से ही मकान बनाने के लिये ढाई लाख रूपए मिल रहे हैं। नगर परिषद की जगह अगर पंचायत होती तो डेढ़ लाख रूपये ही मिल पाते। नगर परिषद बनने से ही एक
साथ इतने अधिक आवास स्वीकृत हो पाये हैं। जब 98 करोड़ के आवास निर्माण शुरू होंगे तो मजदूरों को काम मिलेगा। निर्माण सामग्री बिकेगी, व्यापार बढ़ेगा और बाजार समृद्ध होगा। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों बांदरी में उर्मिला
अहिरवार के घर जाकर उनका गृह प्रवेश कराया और उनके साथ भोजन किया था। बरोदियाकलां में अहिरवार समाज से जो सबसे पहले अपना मकान बनायेगा, उनके यहां भी स्वयं जाकर गृह प्रवेश करायेंगे और वहीं भोजन भी करेंगे।

मंत्री श्री सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश में 50 साल और देश में 60 साल कांग्रेस ने राज किया, परन्तु किसी गरीब का पक्का मकान नहीं बनाया। कांग्रेस के समय साल में दो-चार कुटीर ही मंजूर हो पाती थीं और कुटीर बनाने के लिये इतनी कम राशि मिलती थी कि उससे जानवर के रहने की सार भी नहीं बन सकती। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के हर गरीब परिवार को पक्का मकान दिलाना उनका संकल्प है। अगर बरोदियाकलां क्षेत्र में अभी भी कोई छूट रहा है, तो अगले महीनों में उन्हें भी स्वीकृति करा दी जाएगी।
मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि बरोदियाकलां के हर घर में नल से पानी पहुंचे, इसके लिये 32 करोड़ रूपये मंजूर कराये हैं।

निस्तार के लिये हर घर में शौचालय बनवाये हैं। 24 घंटे बिजली देने का काम कर रहे हैं। सरकार ने कोरोना काल के 600 करोड़ रूपये के बिजली बिल माफ किये हैं।

मंत्री श्री सिंह ने कहा कि बरोदियाकलां में स्ट्रीट लाइट और हाई मास्क लाइटें भी लगा रहे हैं। नगर परिषद क्षेत्र के हर गांव में नालियां, सीसी रोड बनेंगे और स्वच्छता के इंतजाम भी होंगे। तीन हाई मास्क लाइट का आज ही लोकार्पण कर रहे हैं और नगर परिषद को तीन ट्रेक्टर की चाबी सौंप रहे हैं। मंत्री श्री सिंह ने सीएमओ को निर्देश दिये कि कहीं पर भी पेयजल की कमी नहीं होनी चाहिए। इसके लिए जितनी भी जरूरत हो, पानी के टेंकर की व्यवस्था की जाये।
जहां जितनी बोरिंग की आवश्यकता पड़े करवाए जाएं।

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने संबल योजना के तहत हितग्राहियों को चार-चार लाख रूपए के चैक प्रदान किये। उन्होंने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि बढ़ाकर 55 हजार रूपये कर दी है। पिछले
कार्यकाल में हमने खुरई विधानसभा क्षेत्र में 951 विवाह सम्पन्न कराये थे और इस बार शुभ मुहूर्त में मालथौन में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत समारोहपूर्वक विवाह सम्पन्न होंगे। मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना को
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी ने पुनः शुरू किया है। अगले माह 18 अप्रैल को पहली ट्रेन बनारस के लिये रवाना होगी, जिसमें मुख्यमंत्री जी रहेंगे और हम भी। सरकार ने यह भी निर्णय लिया है कि हवाई जहाज से भी तीर्थ दर्शन कराये जाएंगे।
इन दोनों योजनाओं का लाभ लेने के लिये अभी से अपने पंजीयन कराना शुरू कर दें।

बरोदियाकलां नगर परिषद में सौगातों की झड़ी लगाई


मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बरोदियाकलां में अपने संबोधन के बीच सौगातों की झड़ी लगा दी। उन्होंने
नगर परिषद को 32 लाख रूपए की जेसीबी मशीन, 25 लाख रूपए की एक फायर लारी, 19 लाख रूपए की स्काई लिफ्ट, 5 लाख की फागिंग मशीन, सड़कों के निर्माण हेतु दो करोड़, नाली निर्माण हेतु एक करोड़, वैष्णव देवी पहुंच
मार्ग हेतु 50 लाख, तालाब सौंदर्यीकरण हेतु 12 करोड़, पार्क निर्माण के लिये 7 करोड़, खेल मैदान के लिए 2.80 करोड़, शमशान घाट के लिए एक करोड़, हाई मास्क लाइटों के लिए एक करोड़, शादी घर निर्माण हेतु 3 करोड़, बस स्टेण्ड
निर्माण हेतु 2 करोड़ रूपए, तथा दस कचरा वाहन के लिए 60 लाख की स्वीकृति प्रदान की।

बरोदियाकलां। मध्यप्रदेश शासन के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बरोदियाकलां नगर परिषद क्षेत्र के 3912 हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के स्वीकृति पत्र प्रदान किये। मंत्री श्री सिंह ने बरोदियाकलां में
3 हाई मास्क लाइट का लोकार्पण और नगर परिषद को तीन ट्रेक्टर सौंपने के साथ ही लगभग 33.71 करोड़ की सौगातों की झड़ी लगा दी।

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 3912 परिवारों को स्वीकृति-पत्र प्रदान करने हेतु आयोजित समारोह में मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि इन आवासों के निर्माण की कुल लागत 98 करोड़ रूपए है। अपना पक्का मकान बनाने के
लिये प्रत्येक परिवार को ढाई लाख रूपए मिलेंगे। इन सभी हितग्राहियों के खातों में एक लाख रूपए की पहली किस्त 15 अप्रैल तक पहुंच जाएगी। यह मकान हितग्राहियों को स्वयं बनाना है, इसलिये राशि उनके खातों में पहुंचेगी और
कहीं चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि किसी को एक रूपया भी नहीं दें। क्योंकि सरकार ने दलालों और बिचैलियों का रास्ता बंद कर दिया है। साथ ही यह भी अनुरोध है कि मकान बनाने के लिए मिली राशि को किसी
और काम में खर्च न करें।

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि बरोदियाकलां के नगर परिषद बन जाने से ही मकान बनाने के लिये ढाई लाख रूपए मिल रहे हैं। नगर परिषद की जगह अगर पंचायत होती तो डेढ़ लाख रूपये ही मिल पाते। नगर परिषद बनने से ही एक
साथ इतने अधिक आवास स्वीकृत हो पाये हैं। जब 98 करोड़ के आवास निर्माण शुरू होंगे तो मजदूरों को काम मिलेगा। निर्माण सामग्री बिकेगी, व्यापार बढ़ेगा और बाजार समृद्ध होगा। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों बांदरी में उर्मिला
अहिरवार के घर जाकर उनका गृह प्रवेश कराया और उनके साथ भोजन किया था। बरोदियाकलां में अहिरवार समाज से जो सबसे पहले अपना मकान बनायेगा, उनके यहां भी स्वयं जाकर गृह प्रवेश करायेंगे और वहीं भोजन भी करेंगे।

मंत्री श्री सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश में 50 साल और देश में 60 साल कांग्रेस ने राज किया, परन्तु किसी गरीब का पक्का मकान नहीं बनाया। कांग्रेस के समय साल में दो-चार कुटीर ही मंजूर हो पाती थीं और कुटीर बनाने के लिये इतनी कम राशि मिलती थी कि उससे जानवर के रहने की सार भी नहीं बन सकती। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के हर गरीब परिवार को पक्का मकान दिलाना उनका संकल्प है। अगर बरोदियाकलां क्षेत्र में अभी भी कोई छूट रहा है, तो अगले महीनों में उन्हें भी स्वीकृति करा दी जाएगी।
मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि बरोदियाकलां के हर घर में नल से पानी पहुंचे, इसके लिये 32 करोड़ रूपये मंजूर कराये हैं।

निस्तार के लिये हर घर में शौचालय बनवाये हैं। 24 घंटे बिजली देने का काम कर रहे हैं। सरकार ने कोरोना काल के 600 करोड़ रूपये के बिजली बिल माफ किये हैं।

मंत्री श्री सिंह ने कहा कि बरोदियाकलां में स्ट्रीट लाइट और हाई मास्क लाइटें भी लगा रहे हैं। नगर परिषद क्षेत्र के हर गांव में नालियां, सीसी रोड बनेंगे और स्वच्छता के इंतजाम भी होंगे। तीन हाई मास्क लाइट का आज ही लोकार्पण कर रहे हैं और नगर परिषद को तीन ट्रेक्टर की चाबी सौंप रहे हैं। मंत्री श्री सिंह ने सीएमओ को निर्देश दिये कि कहीं पर भी पेयजल की कमी नहीं होनी चाहिए। इसके लिए जितनी भी जरूरत हो, पानी के टेंकर की व्यवस्था की जाये।
जहां जितनी बोरिंग की आवश्यकता पड़े करवाए जाएं।

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने संबल योजना के तहत हितग्राहियों को चार-चार लाख रूपए के चैक प्रदान किये। उन्होंने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि बढ़ाकर 55 हजार रूपये कर दी है। पिछले
कार्यकाल में हमने खुरई विधानसभा क्षेत्र में 951 विवाह सम्पन्न कराये थे और इस बार शुभ मुहूर्त में मालथौन में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत समारोहपूर्वक विवाह सम्पन्न होंगे। मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना को
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी ने पुनः शुरू किया है। अगले माह 18 अप्रैल को पहली ट्रेन बनारस के लिये रवाना होगी, जिसमें मुख्यमंत्री जी रहेंगे और हम भी। सरकार ने यह भी निर्णय लिया है कि हवाई जहाज से भी तीर्थ दर्शन कराये जाएंगे।
इन दोनों योजनाओं का लाभ लेने के लिये अभी से अपने पंजीयन कराना शुरू कर दें।

बरोदियाकलां नगर परिषद में सौगातों की झड़ी लगाई


मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बरोदियाकलां में अपने संबोधन के बीच सौगातों की झड़ी लगा दी। उन्होंने
नगर परिषद को 32 लाख रूपए की जेसीबी मशीन, 25 लाख रूपए की एक फायर लारी, 19 लाख रूपए की स्काई लिफ्ट, 5 लाख की फागिंग मशीन, सड़कों के निर्माण हेतु दो करोड़, नाली निर्माण हेतु एक करोड़, वैष्णव देवी पहुंच
मार्ग हेतु 50 लाख, तालाब सौंदर्यीकरण हेतु 12 करोड़, पार्क निर्माण के लिये 7 करोड़, खेल मैदान के लिए 2.80 करोड़, शमशान घाट के लिए एक करोड़, हाई मास्क लाइटों के लिए एक करोड़, शादी घर निर्माण हेतु 3 करोड़, बस स्टेण्ड
निर्माण हेतु 2 करोड़ रूपए, तथा दस कचरा वाहन के लिए 60 लाख की स्वीकृति प्रदान की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next post मंत्री भूपेंद्र सिंह ने खुरई में 2640 हितग्राहियों को पीएम आवासों के अधिकार पत्र सौंपे